Search
Wednesday 22 May 2019
  • :
  • :

जलियांवाला बाग हत्याकांड के शहीदों की बलिदानी अमरगाथा के 100 वें वर्ष को समर्पित सभा

जलियांवाला बाग हत्याकांड के शहीदों की बलिदानी अमरगाथा के 100 वें वर्ष को समर्पित सभा

New Delhi : 14 अप्रैल को जलियांवाला बाग हत्याकांड के शहीदों की बलिदानी अमरगाथा के 100 वें वर्ष को समर्पित सभा का आयोजन किया गया इस सभा को राष्ट्रीय सिख संगत, राष्ट्रीय गोधन महासंघ और कन्फेडरेशन ऑफ़ एनजीओ ऑफ़ इंडिया द्वारा दिल्ली के विश्व युवक केंद्र में किया गया | जिसमें मुख्य अतिथि असम के राज्यपाल श्री जगदीश मुखी जी थे। यह समर्पित सभा 100 वर्ष पूरे होने पर  शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि दी गई और शहीद उधम सिंह जी को भी याद किया। बीते दिनों  ब्रिटिश सरकार ने  इस घटना पर अफसोस जाहिर किया था। जोकि ना काफी है भारत की जनता ब्रिटिश सरकार से माफ़ी की मांग करती आ रही है जो अभी तक नहीं मांगी गई इस सभा में इस बात पर ध्यान दिया की जल्लांवालाबाग़ के शहीदो को सच्ची श्र्द्धांजलि ब्रिटिश द्वारा माफ़ी से ही मिलेगी। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महामहिम राज्यपाल श्री जगदीश मुखी जी ने जलियांवाला बाग के शहीदों को श्रधान्जली देते हुए सभा में आये सभी लोगों से आग्रह किया कि सभी अपने अपने राज्य के मुख्यमंत्री को जलियांवाला बाग हत्याकांड के बलिदानी इतिहास को स्कूलों के पाठ्यक्रम में पढाये जाने के लिए पत्र लिखें।

सभा में आये लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (Retd.), स्वामी ज्ञानानन्द जी, गोधन महासंघ के संयोजक श्री विजय खुराना जी, CNI के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सुदर्शन सरीन जी, राष्ट्रीय  सिख संगत के अखिल भारतीय महामंत्री-सन्गठन श्री अविनाश जायसवाल जी, राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष सरदार देवेन्द्र सिंह गुजराल जी व् डॉ स्वामी रामेश्वरानंद जी ने शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वर्तमान में देश को शहीद उधम सिंह जी जैसे पक्के इरादे वाले युवाओ की जरूरत है । इस कार्यक्रम में विभिन्न संगठनों के प्रमुख लोग शामिल हुए।



News Agency